टैग पुरालेख: व्यंग्य

वाट लगा रखी है उनकी

यादव जी और जाधव जी पड़ोसी थे। यादव जी की जाधव जी से पटती नहीं थी। एक बार यादव जी ने एक नौकर रखा जिसका नाम था गोदी। गोदी ने आते ही जाधव परिवार की नाक में दम कर दिया। वह यादवों के घर का कचरा जाधवों के घर फेंक देता था। जाधव से गाली-गलौज […]

गरम खून

पुणे में अलसुबह एक इलाहाबादी रिक्शे वाले भैया से चर्चा: मैं – ठण्ड बहुत है भैया – हाँ साहब, अभी और बढ़ेगी। मैं – इतनी तो पहले कभी नहीं पड़ी? भैया – अरे अब यही सब हो रहा है। दुनिया का टाइम आ गया है। अब टाइम आ गया है तो किसी न किसी तरीके […]

मौसम है आआपाना!

पुणे में ठण्ड का धरना, वसंत को कार्यभार देने से इंकार! – दैनिक वडाक्रांति हाल ही में आई वसंत पंचमी की तिथि के बाद ऋतुराज वसंत जब नगर की ओर अपना कार्यभार शीत से लेने आए, तो उन्हें नगर की सीमाओं के बाहर ही रोक दिया गया।  शीत ऋतु पार्टी के कार्यकर्ताओं ने नगर की […]

निबन्ध – भारत एक उत्सवप्रिय देश है

प्रश्न-“भारत एक उत्सवप्रिय देश है” इस विषय पर किसी भी एक उत्सव का उदाहरण देते हुए निबन्ध लिखो। उत्तर: निबन्ध – भारत एक उत्सवप्रिय देश है। 1. हम जिस देश में रहते हैं उसे भारत कहते हैं। 2. भारत में वर्ष भर अनेक उत्सव मनाये जाते हैं। 3. दीवाली, ईद आदि इन उत्सवों में प्रमुख […]