श्रेणी व्यंग्य (Satire)

चौसर खेलना क्यों है हराम?

चौसर का आविष्कार नूतन शर्मा ने किया था। यह नूतन शर्मा वही है जिसने न्यूटन (चुराया हुआ नाम) के जन्म के 2000 वर्ष पहले भारत में गुरुत्वाकर्षण शक्ति की खोज कर ली थी। नूतन ने यह पूरा ज्ञान लिखकर उसे प्रमाणित करने के लिए आईआईटी मुम्बई में पीएचडी के लिए आवेदन किया था। उस समय […]

नोट बने अंगारे

“नोट बने अंगारे” महाकवि, जनक्रांतिदूत, रूस के निवासी, कॉमरेड निरालाई गुप्तेस्तोव नोटबंदी के कारण बदहाल हुए भारत के सर्वहारा वर्ग की पीड़ा से इतना चिंतित हैं कि उन्होंने एक नए काव्य संग्रह की घोषणा की है। संग्रह का नाम होगा “नोट बने अंगारे”। यह रूस के अगति प्रकाशन से प्रकाशित किया जाएगा। मूल्य होगा – […]

“डिजिटल इंडिया” कालीन भारत की एक बाल कथा

राजू को बहुत भूख लगी थी। उसने मम्मी से कहा मम्मी मम्मी भूख लगी मैगी चाहिए मुझे अभी मम्मी ने कहा ठहर जा मैं व्हॉट्स एप कर रही हूँ राजू रोने लगा मम्मी ने कहा ठहर जा इससे बड़ी समस्या यह है कि कौन सा ओएस लूँ? विंडोज़, आईओएस या एंड्रॉइड? राजू फिर रोने लगा […]

कोई यहां अहा नाचे नाचे!

कल फेसबुक पर मित्र आशुतोष ने कहा कि मुर्गा है जो सारे धर्मों में एकता ला देता है। हमने पूछा लेकिन कौन सा? हलाल या झटका? इसको लाइक तो बहुतों ने किया लेकिन जवाब नहीं दिया तो फिर हमने इस पर गंभीरता से विचार किया और नतीजे पर पहुँच भी गए। नतीजे पर आप भी […]

मनुहार – हिंदी और अंग्रेज़ी में फ़र्क

हिंदी में मनुहार की जाए तो अनंत होती है। जब तक चाहें खींचें। अतिथि या जिसकी मनुहार की जाए उसे भी मनुहार में मज़ा आने लगता है। सो वह मना करता रहता है ताकि मनुहार बढ़ती रहे और वह मनुहार का मजा लेता रहे। राजस्थान में तो कुछ लोग बिना मनुहार के खाना या कोई […]

संघे शक्ति कलियुगे

संघे शक्ति कलियुगे: १. संघ और उसके आनुषांगिक संगठनों ने दहेज़ के विरोध में अब तक १०० बार भारत बंद किया है। ५०० से अधिक बार रेल रोकी है। एक लाख से अधिक स्वयंसेवक दहेज़ विरोधी कारसेवा के जत्थों में शामिल हैं। २. बजरंग दल और विहिप के कार्यकर्ताओं ने अब तक एक लाख ऐसी […]

गरम खून

पुणे में अलसुबह एक इलाहाबादी रिक्शे वाले भैया से चर्चा: मैं – ठण्ड बहुत है भैया – हाँ साहब, अभी और बढ़ेगी। मैं – इतनी तो पहले कभी नहीं पड़ी? भैया – अरे अब यही सब हो रहा है। दुनिया का टाइम आ गया है। अब टाइम आ गया है तो किसी न किसी तरीके […]

मौसम है आआपाना!

पुणे में ठण्ड का धरना, वसंत को कार्यभार देने से इंकार! – दैनिक वडाक्रांति हाल ही में आई वसंत पंचमी की तिथि के बाद ऋतुराज वसंत जब नगर की ओर अपना कार्यभार शीत से लेने आए, तो उन्हें नगर की सीमाओं के बाहर ही रोक दिया गया।  शीत ऋतु पार्टी के कार्यकर्ताओं ने नगर की […]

निबन्ध – भारत एक उत्सवप्रिय देश है

प्रश्न-“भारत एक उत्सवप्रिय देश है” इस विषय पर किसी भी एक उत्सव का उदाहरण देते हुए निबन्ध लिखो। उत्तर: निबन्ध – भारत एक उत्सवप्रिय देश है। 1. हम जिस देश में रहते हैं उसे भारत कहते हैं। 2. भारत में वर्ष भर अनेक उत्सव मनाये जाते हैं। 3. दीवाली, ईद आदि इन उत्सवों में प्रमुख […]

दुर्गा-शक्ति-नागपाल (लघुकथा)

सुबह आठ बजे का समय। मुख्यमंत्री निवास के बाग में खद्दर का कुर्ता-पायजामा पहने मुख्यमंत्री दुर्गाप्रसाद चाय पी रहे थे। सामने टेबल पर कुछ बिस्किट और भुने हुए नमकीन काजू रखे हुए थे। इतने में सिलेटी रंग की सफ़ारी पहने हुए उनकेनिजी सचिव अखिलेश और पैंतीस वर्षीय एक गोरा-चिट्टा युवक जिसने सफ़ेद कमीज, गहरी नीली […]