2019 – शुद्धतावाद को परे रखने का समय

बहुत बड़ी-बड़ी क्रांतियों का वादा करने वाले भारत में ऐसी कोई बड़ी क्रांति तो नहीं ला पाए। लेकिन उनके सक्रिय आंदोलनों और आवाज़ उठाने के चलते ही पिछले 72 सालों में क़ानून और व्यवस्था में सकारात्मक बदलाव आए हैं। इन बदलावों को लाने वाली बड़ी कारक रही हैं कांग्रेस की सरकारें।

अब कांग्रेस की कुछ साफ़ दिखाई देने वाली चूकों के चलते हम या तो शुद्धतावादी होकर किसी एक महान क्रांति का इंतज़ार करें या फ़िर “कुछ नहीं से कुछ बेहतर” की व्यावहारिक समझदारी का पालन करते हुए प्रयास करें कि जितना हो सके कांग्रेस जैसे किसी सुनने वाले सत्ताधारी दल से इन बदलावों को हासिल किया जाए।

कांग्रेस की सरकारों ने जो बड़े बदलाव किए हैं उनके पीछे वामपंथी समूहों के दबाव और सलाह दोनों कारक रहे हैं। इन बदलावों की सूची बहुत लंबी है और संविधान निर्माण के समय से शुरू होती है।

चुनाव-दर-चुनाव आंकलन के इस दौर में जब हर 24 घंटे में कोई भी शख़्स कभी नेता तो कभी राक्षस बना दिया जाता है, तब हमको सोचना होगा कि हमारे दरावजे पर आ खड़े फासीवाद से निबटें या “सब चोर हैं” कि मानसिकता रखते हुए और ब्राह्मणवाद के अभिन्न अंग शुद्धतावाद के नशे में जीते हुए जो कुछ थोड़ा बहुत हासिल हो सकता है उससे भी हाथ धो बैठें।

यह सुकून की बात है कि देश के प्रबुद्ध वर्ग और वामपंथी दलों तथा समूहों सहित अन्य उदार आंदोलनों ने इस बात को समझा है और समय पड़ने पर कांग्रेस के हाथ मजबूत किए हैं। जब कांग्रेस सत्ता में आ जाए तो उसके हरेक विचलनों से लड़ने की आवश्यकता पर कोई शक़ है ही नहीं , और यह इतिहास है कि ऐसे प्रतिरोधों का कांग्रेस ने जिस तरह से जवाब दिया है वह भाजपा से बेहद अलग है।

कांग्रेस के भीतर ही तमाम तरह की धाराएं तैरती रही हैं। इसलिए वहाँ पी चिदंबरम या जयराम रमेश से लेकर मणिशंकर अय्यर तक सब शामिल हैं, और अपनी-अपनी अलग आवाज़ें रखते हैं।

फ़िलहाल 2019 के आसन्न “संकट” से निबटने के लिए यह आवश्यक है कि शुद्धतावाद को कुछ समय के लिए आराम दिया जाए।

कांग्रेस जन्मी तो एक मंच थी। आगे चलकर एक पार्टी हुई। आज प्रायः एक पार्टी है लेकिन एक हद तक एक मंच भी है ही।

हितेन्द्र अनंत

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: