मासिक पुरालेख: जुलाई 2017

लियू शियाओबो (Liu Xiaobo)

“वह मर गया, लेकिन उसके नाम पर फ़िल्मी रोना-धोना शुरू हो गया है। हम बैठकर इसका मज़ा लेंगे।” – चीनी अख़बार ग्लोबल टाइम्स, एक ट्वीट में जिसे बाद में डिलीट कर दिया गया। “The person’s gone but a blockbuster tear-jerker is just on — we’ll sit back and enjoy the show.” – Global Times लियू […]

प्लेटफार्म नम्बर एक का देशद्रोह से संबंध

मुम्बई से पुणे यात्रा के लिए जून १९३० को शुरू हुई थी एक ट्रेन – डेक्कन क्वीन (दक्खन की रानी, या दक्खन ची राणी). इसे तब के मुम्बई के रईस अंग्रेज़ों के लिए शुरू किया गया था ताकि वे सप्ताहांत में पुणे आकर रेसकोर्स में घोड़ों की रेस का मजा ले सकें. यह भारत की […]