अबकी बार दीवाली में!

परदेस है रोटी

परदेस है सपना

परदेस है कारोबार।

देस विरह है

देस प्रेम है

देस है बिछुड़ा यार॥

 

प्रेम बरसता

विरह टूटता

मिलते बिछुड़े यार।

कम से कम

एक बार बरस में

जो आ जावे त्यौहार॥

 

आ जावे त्यौहार मिलेंगे, सारे यार दीवाली में।

घरबार अपना, अपना देस, अबकी बार दीवाली में!!

 

जाने की थी आस

पर मिला नहीं अवकाश

जैसे-तैसे मिल भी गया तो

टिकट नहीं था पास।

अपने देस दीवाली की

टूट गयी यों आस॥

 

टूटी आस, देस जा न सके, अबकी बार दीवाली में।

सो परदेस ही दिये जलायें, अबकी बार दीवाली में॥

 

मानें हम जिसको परदेस

वह भी तो है देस किसी का।

मिट्टी-मिट्टी में क्या अंतर

जो बदले भाषा-भेस किसी का॥

 

गले मिले जो भी प्रेम से

मानस अपना यार है।

जब दिये जलें और मिटे अंधेरा

समझो तभी त्यौहार है॥

 

भूख मिटाये रोटी है

प्यास बुझाये पानी।

जो काम आवे वही यार है

क्या बोली, क्या बानी॥

 

भूख मिटाओ, प्यास बुझाओ, बाँटो प्यार दीवाली में।

परदेस को ही देस बनाओ, अबकी बार दीवाली में॥

 

तोरण ताना, माला गूँथी, रंगोली रची दीवाली में।

कैसा मौसम, कैसी रौनक, धरती है सजी दीवाली में॥

 

लड्डू, गुझिया, मठरी, चकली, खूब मजा दीवाली में।

इतना खाया पेट पा रहा, खूब सजा दीवाली में॥

 

मिटा देस-परदेस का अंतर, बिखरा प्यार दीवाली में।

विरह देस का कहीं खो गया, अबकी बार दीवाली में॥

 

-हितेन्द्र अनंत

3 टिप्पणिया



  1. मानें हम जिसको परदेस
    वह भी तो है देस किसी का।
    मिट्टी-मिट्टी में क्या अंतर
    जो बदले भाषा-भेस किसी का॥

    गले मिले जो भी प्रेम से
    मानस अपना यार है।
    जब दिये जलें और मिटे अंधेरा
    समझो तभी त्यौहार है॥

    वाऽऽह ! सकारात्मक सोच का परिणाम सुखद ही होता है …

    सुंदर भाव ! सुंदर शब्द !
    खूबसूरत रचना !

    बधाई स्वीकार करें हितेन्द्र अनंत जी !
    शुभकामनाओं सहित…

    1. धन्यवाद राजेन्द्र जी!
      आपको दीपावली की शुभकामनाएँ!



  2. बनी रहे त्यौंहारों की ख़ुशियां हमेशा हमेशा…

    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    ♥~*~दीपावली की मंगलकामनाएं !~*~♥
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    सरस्वती आशीष दें , गणपति दें वरदान
    लक्ष्मी बरसाएं कृपा, मिले स्नेह सम्मान

    **♥**♥**♥**●राजेन्द्र स्वर्णकार●**♥**♥**♥**
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: